Blogging करना है तो दूसरों के Content को Copy करो

Posted on

आज के हमारे post का title read करने के बाद आप ये तो समझ ही गए होंगे कि आज हम किस के बारे में बात करने वाले है , अगर आपको सही मायने में blogging करना है तो दूसरों के blog content को copy करके अपने blog में publish कीजिये इससे आपका समय भी बचेगा और आप जल्द ही blogging में success हासिल कर लोगे. लेकिन दूसरों के blog post को copy करने का तरीका क्या है ? ये तो आपको पता ही होगा और आप copy-paste करने में उस्ताद होगे , कोई कह नहीं सकता कि आप किसी दुसरे के content को copy करके अपने blog पर publish करते हो.

Blogging karna hai to dusaro ke content ko copy karo

Maximum blogger दुसरे के blog post को copy करते है, उसे edit करते है और अपने blog पर publish कर देते है. ऐसा करते-करते वो एक महीने में ही अपने blog को इतना हरा-भरा कर देते हैं जिसे अगर खुद से लिखा जाए तो 2-3 साल का समय लग जाए, ऐसे काम कि तो तारीफ करनी ही चाहिए.

क्या मिलेगा खुद से blog post लिख कर ? blogging में मेहनत क्यों करें जबकि internet पर सभी जानकारी available है, बस उसी जानकारी को copy करने का और अपने blog पर publish करने का. और जब blog कि traffic improve नहीं होगी तो इसके बारे में internet पर search करो और आपको एक मस्त सा जवाब मिल जायेगा कि ” blogging छोड़ दो

आज हम अपने इस post के जरिये copy-paste को बढ़ावा देने का काम नहीं कर रहे बल्कि हम आपको ये बताना चाहते है कि अगर आप copy-paste करते हो या फिर copy-edit-paste करते हो तो आपको blogging करना छोड़ देना चाहिए क्यूंकि blogging आपके लिए नहीं है और न ही आप एक blogger हो.

Blogging करने का सही मतलब होता है कि आप अपने ज्ञान को लोगो के साथ share करो न कि दूसरों के ज्ञान को promote करो. ऐसा करने से आप सिर्फ एक promoter कहलाओगे. मतलब आप blogging कि दुनिया के बिच वाले सदस्य हो जो bloggers को visitors के साथ जोड़ने का काम करती है. इससे आपकी खुद कि identity define नहीं होतो और न ही आपका blog कभी success हो पायेगा.

Blogging करना है तो दूसरों के content को copy करो

हमारे post का title read करने के बाद आप जरुर confuse हो गए होंगे कि title क्या है और मैं किस बारे में बात कर रहा हु. तो friends अगर आप अपने blog पर copy-paste नहीं करते हो और हमारा ये post read कर रहे तो मैं 100% guarantee के साथ कह सकता हु कि आपके मन में भी copy-paste करने का ख्याल जरुर आया होगा, और इसी ख्याल को बदलने का काम आज हम इस post के जरिये करने वाले है, इसलिए हमने इस post का title ऐसा रखा है. और हमें ये लगता है कि अगर हम किसी कि बुरी आदतों को सुधारने का काम करते है तो सबसे पहले उनकी आदतों कि सराहना करो फिर उन्हें उनकी आदतों के बारे में aware कराओ.

मेरे इस post title को read करने के बाद बहुत से blogger excite जरुर हुए होंगे, लेकिन copy-paste करना न तो एक blogger को सोभा देता नहीं और न ही उन्हें blogger कहलाने का हक़ भी है.

एक post को लिखने में काफी समय और research करना होता है तभी के quality post create होती है , और इसी मेहनत का नतीजा होता है कि जो post quality वाली होती है वो बहुत जल्द search engine पर show होने लगती है और blog पर traffic कि भी चिंता नहीं करनी पड़ती. वो कहते हैं न कि मेहनत का फल मीठा होता है, मैंने मेहनत कि है तो मुझे उसका फल भी मिलेगा . लेकिन अगर आप मेरी मेहनत को copy करके अपने blog पर publish करोगे तो इससे आपको क्या फायदा होने वाला है, न तो आपने कोई मेहनत कि है न ही आपको मेरे post के बारे में पता है.

आज maximum blogger आपको ऐसे मिल जायेंगे जिन्हें blogging से कुछ लेना-देना नहीं है, वो तो तो बस अपने blog पर जैसे-तैसे post count improve करने में लगे हुए है. Copy paste के जरिये content को improve करना आज कल एक fashion हो गया है और ये fashion सिर्फ कुछ ही दिनों तक रहती है. Friends सबसे पहले हम copy paste से related कुछ main बातों के बारे में जान लेते हैं.

COPY PASTE करने के तरीके जो हमे blogging से दूर ले जाती है

दूसरों के blog post को copy करके अपने blog पर publish कर देना – ऐसा बहुत से new blogger करते है और कुछ दिनों में ही blogging से quit भी कर लेते है, और कुछ लोग कई महीनो तक copy paste करना चालू रखते हैं और end में वो खुद थक-हार कर blogging छोड़ देते हैं.

दुसरे blog से post copy करना, उसे edit करना और अपने blog पर paste कर देना – बहुत से blogger अपने आपको बहुत smart समझते है , वो दूसरो के blog content को modify करके अपने blog पर publish करने में लगे रहते है और उनका ज्यादा तर समय यही करने में spend होता है. इन्हें blogging नहीं कहा जा सकता , इन्हें तो हम सिर्फ एक चालाक चोर ही कहेंगे जो चोरी तो करते है लेकिन सभी साबुत मिटा देते है.

कई सरे blog से content copy करके एक post बनाना और उसे publish करना – कुछ extra ordinary blogger भाई बहुत सारे blog के content को copy करके उसे एक post में convert करके उसे publish करने का काम करते है. ऐसे लोगो को भी चोर कहना गलत नहीं होगा, क्यूंकि ऐसे लोग installment में चोरी करते है.

कभी कभी अपने blog पर दुसरे blog का post copy करके publish करना – बहुत से blogger अपने blog के प्रति dedication दिखाते है लेकिन कभी-कबार दूसरो के blog के content चोरी करने से भी बाज नहीं आते. जब उन्हें लगता है कि उनके पास लिखने को कुछ बचा नहीं है तो वो copy-paste कि राह पर निकल चलते है.

Books और magazines से content को copy करके अपने blog पर publish करना –  बहुत से लोग सोचते है कि books और magazines से content copy करके अपने blog पर publish करने से वो post unique attractive होती है, लेकिन ऐसा करके वो अपने आपको blogger नहीं कह सकते. ये भी एक चोरी है.

आप सभी एक blogger हो तो में आपको सिर्फ यही कहूँगा कि आप data-entry का काम न करे और दुसरे bloggers के hard-word कि respect करे और उनके content को किसी भी हाल में copy न करे. बहुत से लोग मेरे इस बात को अपने एक कान से सुन कर अपने दुसरे कान से निकल भी देंगे, लेकिन मैं आप सभी को एक बात जरुर बताना चाहूँगा कि copy-paste करने से आपका क्या नुकसान हो सकता है ..

Copy paste करने से नुकसान किसका है

आज internet का जो वजूद है तो सिर्फ google कि वजह से ही है और इसे झुठलाया नहीं जा सकता, और आप इस बात से जरुर वाकिफ होंगे क्यूंकि जो internet का use करते है वो google के जरिये ही कुछ search करते है. लेकिन क्या आपको पता है कि आज के समय में google इतना smart हो गया है कि उसे पता चल जाता ही कि कौन सा post, article, content original है और कौन सा duplicate.

Google कभी भी अपने search result में duplicate content show नहीं करता, google का algorithm इतनी smart हो गई है कि वो झट से पता लगा लेती है कि आपने जो post copy किया हुआ है वो किस website या blog से है और आपके blog को google अपने search result में कभी भी show नहीं करती.

मान लीजिये कि आपने अपने blog पे 100 post publish किया है और जिनमे से 50 post आपने किसी दुसरे blog से copy किया है तो आपके blog पर सिर्फ 50 post ऐसे होंगे जिसको आपने खुद से लिखा है , लेकिन जो आपने 50 post copy किया है उसकी वजह से आपके पुरे blog का google rank down हो जायेगा.

एक गन्दी मछली पुरे तालाब का पानी गन्दा कर देती है, ये कहावत पूरी तरह एक blog पर फिट बैठती है. अगर आपके blog में कुछ ऐसे post है जिनको आपने copy किया हुआ है तो वही post आपके पुरे blog कि google ranking down कर देगी और आपको पता ही होगा कि अगर ऐसा हो जाता है तो क्या होगा. आपके blog कि traffic कभी बढ़ेगी ही नहीं.

Copy paste करने वालो कि blog traffic कभी improve नहीं होती है और यही वजह है कि copy-paste करने वाले लोग बहुत जल्द blogging से छुटकारा पा लेते है और copy-paste करना छोड़ने के साथ साथ blogging से भी अलविदा कह देते है.

अब सवाल ये है कि अगर आप copy-paste को बहुत ज्यादा महत्त्व दे रहे हो तो आपका blogging future कैसा होगा ? copy paste करने वालो का कोई future नहीं होता और न ही वो कभी blogging करना सिख पते है. मैं ये नहीं चाहता कि blogging कि वजह से आपको निरासा मिले, में तो यही चाहता हु कि आप सभी एक blogger बनो और आप भी वो करो जो एक blogger करता है और ये तभी मुमकिन है जब आप खुद के talent को पहचानोगे . HAPPY BLOGGING

🚣‍♀️ Agar aapko ye article acchi lagi to isay apne social network par jarur share kare 🤓 THANKS

14 thoughts on “Blogging करना है तो दूसरों के Content को Copy करो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *